Tuesday, September 4, 2007

क्या बता सकते है ये आवाज़ है किसकी ?

बहुत दिनों से इस रचना को मैं सुन रहा हूं पर इस मीठी आवाज़ के मालिक को अभी तक जान नहीं पाया हूं क्या आप मेरी मदद कर सकते हैं ? इनकी रचना है जो कबीर पर आधारित है जो मन को भा रही है . आप भी सुनिये.. और मज़ा लीजिये और हमारी मुश्किल को दूर कीजिये , आखिर ये रचना किस अलबम से है..ज़रूर बताइयेगा तो पेश ए खि़दमत है.. !!!!

समीर भाई ने मेरी शंका को दूर कर दिया है...... ये संरचना मुम्बई के "अग्नि बैंड" की है..... समीर भाई आपको दिल से शुक्रिया.... तो आप अब सुनिये और देखिये......!!!!

15 comments:

yunus said...

थोड़ा इंतज़ार कीजिए जल्‍दी ही बताते हैं ये किसकी आवाज़ है । अच्‍छा लगा ये रचना सुनकर ।

vimal verma said...

बाप रे इतनई फ़ुर्ती? अब तो ये ज़रूर कहुंगा कि जहां संगीत है वहां यूनुस हैं.. आप तो संगीत के गोदाम में ही रहतें है आप मेरी मदद कर सकते हैं.

Udan Tashtari said...

विमल भाई

बम्बई का एक बैण्ड है अग्नि-अरिजीत, कोको और मोहन तीन लोगों का-उन्हीं का गाया हुआ है.

आपने पूछा है और हम जबाब दे पाये तो बोनस में विडियों देखिये इस गाने का:

http://www.youtube.com/watch?v=8-vUzgmN7p0&mode=related&search=

-समीर :)

Udan Tashtari said...

अग्नि बैण्ड की प्रोफाईल यहाँ देखें:

http://agnee.in/profile.htm

vimal verma said...

समीर भाई वाकई आपने मेरा एक बड़ा काम कर दिया है नही तो नही पता चलने पर पेट में दर्द लम्बे समय तक होता ही रहता, लिंक भी जो दिया है मज़ा आ गया देखकर.. तो इसके लिये शुक्रिया थोड़ा छोटा पड़ रहा था इसलिये धन्यवाद देता हूं.

mayank said...

भाई मजा आ गया

yunus said...

जी हां हम संगीत के गोदाम में ही रहते हैं सरकार ।
लेकिन समीर भाई हमसे भी आगे हैं ।
जय हो गुरू । बोलो उड़नतश्‍तरी की.............जय

anuj said...

vimal ji main aap ka naya fan hoon shyad aap pahchaan gaye hone hanks a lot of u r comments

anuj

anuj said...

well vimal sir hindi me kaise likhte hai zara bata deejeeye


anuj

anuj said...

aaj maine sahara samay join kar kiya hai aap ka aasheerwaad chahiye


anuj

anuj said...

blog kaise banate hai mujhe bhi bataye

anuj

anuj said...

मेरे प्यारे विमल जी आप का सुझाव मुझे अच्छा लगा अब देखिये मैं सीख गया

anuj said...

जो भेज रहा हूँ वो आप के भेजे मे भेज रहा हूँ अब पता नही की आप के भेजे मे भेज पाऊंगा या नही मेरे भेजे से बाहर है

anuj said...

विमल जी कैसे है आपकी रचना बहुत अच्छी लगी मज़ा आ गया भई आपके अन्दर बहुत कुछ छिपा है जो अब निकल कर बाहर आ रहा है

anuj said...

विमल जी कैसे है आप आज मेरा टीवी मे एक वीक पूरा हो गया है उम्मीद है की जल्दी ही पिक अप कर लूँगा बाकी आप का आशीर्वाद चाहिए आप का छोटा भाई अनुज